नगर परिषद बैहर की मिलीभगत से नाली निर्माण कार्य में ठेकेदार कर रहा मनमानी

169

    नगर परिषद बैहर क्षेत्र में नगर प्रशासन की बड़ी लापरवाही सामने आई है। बैहर नगर में आम्बेडकर चौक स्थित गोंडवाना भवन से हर्रानाला तक आर.सी.सी नाली निर्माण कार्य के लिये हाल ही में 41 लाख रुपये स्वीकृत हुए थे। कुछ दिन पूर्व नगर परिषद अध्यक्ष और उपाध्यक्ष द्वारा भूमिपूजन कर नाली निर्माण कार्य शुरू किया गया था। ठेकेदार और नगर परिषद की मिलीभगत से अतिक्रमण में बनाये गए  मकान और दुकान टूटने से बच रहे।

     कुछ नगर प्रतिष्टित लोगों ने अपनी दुकान और मकान बचाने ठेकेदार को  ले-देकर अतिक्रमण में जो उनके घरों और दुकानों का कुछ हिस्सा आ रहा वो टूटने से बचा लिया। नाली निर्माण कार्य  में अपने हिसाब से कही कम तो कही ज़्यादा दूरी पर ठेकेदार द्वारा नियम विरुद्ध कार्य किया जा रहा है। आड़ी-तिरछी नाली निर्माण कार्य के बारे में जब नगर परिषद सब इंजीनियर से पूछा गया तो उन्होंने साफ कह दिया एस्टीमेट में ऐसा कुछ नही लिखा होता कि कितनी फिट की दूरी में नाली निर्माण किया जाए और कितनी गहरी नाली खोदी जाए। 

    घटिया निर्माण सामग्री से नाली निर्माण किया जा रहा है जिसका निरीक्षण करने नगर प्रशासन की तरफ से कोई भी अधिकारी या कर्मचारी नही आता। ठेकेदार और सब इंजीनियर से लोगों ने एस्टिमेट भी मांगे लेकिन दोनों ने इसे अनसुना कर दिया । लोगों की भीड़ बढ़ते और मामले को गरम होता  देख सब इंजीनियर और ठेकेदार आपस मे ही बहस करने लगे जो कि वीडियो में साफ नजर आ रहा है । दोनो ही एक -दूसरे पर ठीकरा फ़ोड़ रहे हैं। इसके पूर्व में भी नल-जल योजना के तहत शहर में पाइप लाइन बिछाई गई थी जो कि नियम को ताक में रख कर डाली गयी थी उसी का नतीजा आज देखने मे आ रहा है कि नलियों के निर्माण में नाली गहरी नही खोदी जा रही है।