रेलकर्मियों की सतर्कता से संभावित दुर्घटना को टाला जा सका, डीआरएम नें की रेलकर्मियों के कार्य की सराहना

148

  भोपाल मण्डल के इटारसी स्टेशन पर ड्यूटी के दौरान रेल कर्मियों की सतर्कता एवं सूझबूझ से कार्य करने की वजह से संभावित दुर्घटना को टाला जा सका। 

     ज्ञात हो कि विशाखापट्टन से चलकर हजरत निजामुद्दीन को जाने वाली गाड़ी संख्या 02887 विशाखापट्टन-हजरत निजामुद्दीन समता एक्सप्रेस स्पेशल के आज दिनांक 08.09.2021 को इटारसी स्टेशन पर 05.06 बजे पहुँचने पर उस समय ड्यूटी पर तैनात कैरिज एवं वैगन डिपो के कर्मचारी श्री जी.पी. मिश्रा (सीनियर सेक्शन इंजीनियर), श्री राम बिहारी मीना (तकनीशियन-II) एवं सुरेश चंद्र (तकनीशियन-III) ने रोलिंग इन परीक्षण के दौरान देखा कि गाड़ी के एस-6 कोच की ट्रॉली में दरार आ गई है। उन्होंने तुरंत इसकी सूचना वरिष्ठ अधिकारियों को दी।

     वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा लिए गए निर्णय के अनुसार एस-6 कोच के 67 यात्रियों को उतार कर उन्हें एस-5 और एस-7 कोच में भोपाल स्टेशन तक के लिए बैठाया गया तथा  क्षतिग्रस्त कोच को गाड़ी से अलग कर आगे के लिए रवाना किया गया। गाड़ी के भोपाल स्टेशन पर 08.23 बजे पहुंचने पर भोपाल से दूसरा शयनयान श्रेणी का कोच लगाकर यात्रियों को उस कोच में बैठाकर भोपाल स्टेशन से 08.45 बजे बिना किसी शिकायत के गंतव्य की ओर रवाना किया गया।

     डीआरएम श्री सौरभ बंदोपाध्याय नें गाड़ी के कोच में आए दोष की जानकारी समय पर वरिष्ठ अधिकारियों को देकर संभावित दुर्घटना को टालने वाले रेल कर्मियों के कार्य की सराहना की है एवं भविष्य में इसी तरह तत्परता, लगन और सूझबूझ से कार्य करते रहने के लिए शुभकामनाएं दी है।

    डीआरएम नें कहा कि हमारे रेल कर्मी सदैव सतर्क और तत्पर रहते हैं और किसी भी कठिन समय में अपनी सतर्कता, तत्परता और सूझबूझ का परिचय देते हैं। इसी का परिणाम है कि जनता में भारतीय रेलवे की साख और विश्वसनीयता बनी हुई है। भोपाल मंडल अपने ऐसे रेल कर्मियों पर गर्व करता है।