सदर अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगाने का निर्माण कार्य शुरु, उपायुक्त रमेश घोलप ने किया स्थल निरीक्षण

153


कोडरमा
जिला के सदर अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट लगाने का निर्माण कार्य शुरु कर दी गयी है। दिन शुक्रवार को डीसी रमेश घोलप ऑक्सीजन प्लांट निर्माण कार्य का निरीक्षण करने सदर अस्पताल पहुंचे। निरीक्षण के क्रम में उन्होंने ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए विभिन्न पहलुओं का जायजा लिया। ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने में लगी कंपनी के प्रतिनिधि व संवेदक को गुणवत्तापूर्ण कार्य करने का निर्देश उपायुक्त के द्वारा दिया गया। उन्होंने कहा कि प्लांट का निर्माण कार्य हर हाल में गुणवत्तापूर्ण हो, वे यह सुनिश्चित करेंगे। मौके पर मौजूद उपाधीक्षक डॉ रंजन को ऑक्सीजन प्लांट के निर्माण कार्य की समय समय पर मॉनिटरिंग करने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने बताया कि राज्य सरकार के द्वारा व टाटा स्टील के सहयोग से सीएसआर मद से 500 एलपीएम का ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किया जा रहा है। ऑक्सीजन प्लांट एवं शेड निर्माण का कार्य एनएचएआई के द्वारा किया जा रहा है। उपायुक्त ने बताया कि ऑक्सीजन प्लांट अगस्त माह के दूसरे हफ्ते तक लग जाने की संभावना है। इससे कोविड एवं अन्य मरीजों के लिए ऑक्सीजन बेड को निर्बाध ऑक्सीजन आपूर्ति सुनिश्चित होगी। 

इस दौरान उपायुक्त ने सदर अस्पताल में जिले के कई स्थानों से इलाज कराने आये मरीजों से बातचीत किये। मरीजों से इलाज को लेकर किसी प्रकार की कठिनाई या दिक्कत से संबंधित बात-चीत कर जानकारी प्राप्त किये।

उपायुक्त ने सदर अस्पताल में हेल्थ मैप डायग्नोसिस्ट के द्वारा संचालित सीटी स्कैन का भी जायजा लिया गया। सीटी स्कैन कराने आये मरीजों से बात-चीत की और वहां पर हो रही किसी प्रकार कठिनाई के बारे में जानकारी प्राप्त किये। मरीजों के द्वारा बताया गया कि सही सूचना ससमय नहीं देने के कारण काफी इंतजार करना पड़ता है। उपायुक्त ने निर्देश दिया कि हेल्थ मैप डायग्नोसिस्ट के संचालक व चिकित्सक को मरीजों को सही जानकारी देते हुए ससमय सीटी स्कैन करना सुनिश्चित करेंगे। साथ ही उपाधीक्षक डॉ रंजन को निर्देश दिये कि जांच केंद्रों के समीप मरीजों के इंतजार के लिए बैठने की व्यवस्था करें ताकि मरीजों को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो। साथ ही सदर अस्पताल में ट्रूनेट जांच का भी जायजा लिया।

उपायुक्त घोलप ने सदर अस्पताल में बन रहे भवन के निर्माण कार्य की वस्तुस्थिति का भी जायजा लिया। इस हेतु मौके पर संवेदक को निर्माण कार्य में गति को बढ़ाने का निर्देश दिये। इस मौके पर उप विकास आयुक्त आर रॉनिटा, अनुमंडल पदाधिकारी मनीष कुमार, उपाधीक्षक डॉ रंजन, गोपनीय प्रभारी जयपाल सोय, जिला मलेरिया पदाधिकारी सह जिला सर्विलांस पदाधिकारी डॉ मनोज कुमार व अन्य मौजूद थे।