कोशी के लाल बने नेशनल रेनाउंड शूटर

91

सहरसा के बेटा देवांश प्रिय ने एक बार फिर राइफल शूटिंग में अपना परचम लहराया है। जानकारी के अनुसार नेशनल राइफल शूटिंग के लिए कोशी का लाल देवांश का चयन, राष्ट्रीय टीम की दावेदारी
केरल के तिररुवंतपुरम में आयोजित नेशनल राइफल शूटिंग प्रतियोगिता में हुआ। देवांश प्रिय ने कड़ी मेहतन के बाद नेशनल राइफल शूटिंग के लिए निशाना साध दिया है। केरल के तिरुवनंतपुर में आयोजित नेशनल 50 मीटर थ्री पी एवं प्रोन साइड राइफल शूटिंग प्रतियोगिता को उन्होंने क्वालीफाई कर लिया है। देवांश प्रिय का चयन अब नेशनल रेनाउंड शूटर के रूप में हो गया है। केरल के तिरुवनंतपुरम में बीते 20 नवंबर से नेशनल शूटिंग शुरू हुई थी। इसमें 20 नवंबर 50 मीटर 3 पी एवं 8 दिशम्बर को 50 मीटर प्रोन इवेंट को कोशी का लाल देवांश प्रिय ने शानदार प्रदर्शन करते हुए नेशनल के लिए अपनी जगह तय कर ली। मालूम हो कि 65 वीं नेशनल शूटिंग चेम्पियन शिप कंपीटिशन इन राइफल इवेंट त्रिवेंद्रम करेला में आयोजित राइफल शूटिंग चेम्पियनशिप में देवांश प्रिय ने थ्री पी 50 मीटर राइफल इवेंट में 585 स्कोर लाकर क्वालीफाई किया वहीं प्रोन 50 मीटर राइफल शूटिंग इवेंट में 547 स्कोर लाकर नेशनल टीम में जगह बनाकर रिनोण्ड सुपर का तमगा हांसिल किया। मालूम हो कि देवांश प्रिय कोशी जैसे पिछड़े इलाके से होते हुए भी उत्तराखंड राज्य के उत्तराखंड राइफल एसोसिएशन के तरफ से बेहतर प्रदर्शन कर राइफल शूटिंग में नेशनल स्तर पर शूटिंग के लिए चयनित हुए हैं। इनके नेशनल राइफल शूटिंग में चयन होने पर दादा लक्ष्मण प्रसाद सिंह एवं दादी गीता देवी ने हर्ष व्यक्त करते हुए बताया कि देवांश और एकांश दोनों बेहतर राइफल और पिस्टल शूटिंग कई गोल्ड और सिल्वर प्राप्त किया है जबकि देवांश प्रिय ने 10 मीटर राइफल शूटिंग इवेंट में नेशनल शूटिंग चेम्पियनशिप में सिल्वर मेडल प्राप्त किया था। वहीं देवांश प्रिय के पिता पत्रकार बी एन सिंह पप्पन और माता स्वेता सिंह ने पुत्र की सफलता पर बताया कि कोशी वासियों का प्यार और आशीर्वाद है कि कोशी का बेटा नेशलन स्तर पर राइफल शूटिंग में अपना परचम लहराया है आप लोग आशीर्वाद दें जो कोशी का ही नही अपितु देवांश प्रिय अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बिहार और देश का नाम रोशन करे।