गाजे-बाजे के साथ निकली भव्य कलश शोभा यात्रा

179

 बालूमाथ: प्रफुल्ल पांडेय 

गाजे-बाजे के साथ निकली भव्य कलश शोभा यात्रा

                                       

बालूमाथ । शारदीय नवरात्र के सातवें दिन शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र मे कलश यात्रा की धूम मची रही। रंग-बिरंगे परिधान मे कन्याएं एवं माताएं कलश यात्रा मे शामिल हुई। पूजास्थल से रवाना होकर पवित्र जलाशयों से जल लेकर पूजास्थल पर लौटी। इस दौरान मां दुर्गे के जयकारे से वातावरण गूँजता रहा। गांव के सभी पूजा समितियों की ओर से कलशयात्रा निकाली गई। इसमे भगेया, मूरपा मे भव्य कलश यात्रा निकाली गई। वही अन्य पूजा समितीयो की ओर से निकली कलश यात्रा मे भारी संख्या मे कन्याओं ने हिस्सा लिया। वही भगेया पूजा समिति के अध्यक्ष जगरनाथ यादव ने आर9 भारत के संवाददाता को बताया कि कोविड-19 का पालन करते हुए भगेया मे पूजा-पाठ के बाद पूजास्थल से निकली शोभायात्रा मे शामिल 501 कुंवारी कनयाऐ गाजे बाजे के साथ कलश लेकर निकली तो मां दुर्गे के जयघोष से वातावरण भक्तिभाव हो गया। कनयाऐ भगैया दूर्गा मंडप से लेकर देवनद नदी से जलभर कर वरूण देवता के पूजा के बाद पंडित अवध किशोर पाठक ने मंत्रोच्चार करते पुनः पूजास्थल पर पहुंची जहाँ कलश स्थापित किया गया। समिति के अध्यक्ष जगरनाथ यादव, सचिव-यूगेश भगत, कोषाध्यक्ष-चारे उरांव, मुखिया योगेश्वर उरांव, नरेश यादव, अशोक यादव, नरेश नेता, समेत पूजासमिती के सभी पदाधिकारी व सदस्य तथा बडी संख्या मे ग्रामीण शोभा यात्रा के साथ चल रहे थे। वही कलश यात्रा मे आऐ श्रद्धालू को नरेश यादव (सिरम) की ओर से खीर का व्यवस्था किया गया था वही केला, शर्बत का भी व्यवस्था किया गया था। जिसमे विवेकानंद यादव, उमेश उरांव, जगरनाथ यादव, नरेश नेता, कैलाश राज, राजेन्द्र उरांव, मुखिया जी, अमन, धर्मेन्द्र, युगेश, अनुज, दिनेश, अशीमबाला, मुद्रिका ने अपना अपना योगदान दिया।