मैनाटांड़ प्रखंड स्थित इमरजेंसी हॉस्पिटल जो एक के अवैध तरीके के हॉस्पिटल में अनु देवी उम्र 26 साल जिसका ऑपरेशन के दौरान हुई मृत्यु

159

मैनाटांड़ प्रखंड स्थित इमरजेंसी हॉस्पिटल जो एक के अवैध तरीके से चल रहा है जिसका संचालक इंतखाब आलम दूसरा अशोक कुमार हैं उस हॉस्पिटल में अनु देवी उम्र 26 साल जिसका ऑपरेशन के दौरान मृत्यु हो गया जिसके पति का नाम चंदन पासवान उम्र 28 साल ग्राम सकरौल वार्ड 11 की ऑपरेशन करने के दौरान मृत्यु हो जाती है

सूत्रों से पता चला है कि मैनाटांड़ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में डिलीवरी कराने के लिए आया था लेकिन वहां पर बिचौलियों के द्वारा मरीज को भला फुसलाकर इमरजेंसी हॉस्पिटल में लेकर चला गया वहां के डॉक्टर कह रहे हैं कि हम नॉर्मल डिलीवरी करा देंगे फिर कुछ देर के बाद कह रहे हैं कि अगर ऑपरेशन नहीं किया गया तो आपका मरीज नहीं बच पाएगा ऑपरेशन करने के लिए उन लोगों ने 20000 का डिमांड किया जो वहां पर मरीज के गार्जियन थे उन लोगों के पास ₹4000 था जमा करा दिया लो डॉक्टर साहब ऑपरेशन करने लगे ऑपरेशन के दौरान मरीज अनु देवी की मृत्यु हो गई तो डॉक्टर साहब ने फोन कर कर एक एंबुलेंस को बुलाए और एंबुलेंस से सेटिंग कर लिया कि तुमको बेतिया नहीं जाना है तुमको एंबुलेंस रास्ते में घुमाते रहना है सोचने वाली बात यह है कि एंबुलेंस वाले भी अपना करतब भूल जाए तो लोगों का क्या होगा।

सोचने वाली बात यह की
हॉस्पिटल प्रभारी को पता तक नहीं की बगल में कितना अवैध नर्सिंग होम चल रहा है आए दिन ऐसा देखने को मिल रहा है कि कोई ना कोई मरीज रोज मर रहा है दूसरी एक बात बताना चाहेंगे कि पोपुलर अल्ट्रा साउंड के नाम पर अवैध नर्सिंग होम चलाया जा रहा।


मैनाटांड़ थाना मृतक महिला की लाश को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए जिला मुख्यालय MJK हॉस्पिटल बेतिया भेज दिया गया