ग्रामपंचायत कोपरो में हुवे विभिन्न कार्यक्रम

157

साल्हेवारा:-दिनांक 27 नवम्बर को ग्राम पंचायत कोपरो में अपनी नियत तारीख में होने वाले कार्यक्रम न हो पाने की वजह से सभी अधूरे व रुक चुके कार्यक्रमो को विराम मिला।कोरोना के प्रकोप ने लोगो की दिनचर्या व अनुशाशन ही परिवर्तित कर रखा है कार्यक्रम होते अवश्य है लेकिन उन कार्यक्रमो की जो प्रमाणिक तिथियां व तारीखे हुवा करती थी वो लोगो मे भ्रम व भ्रांतियां पैदा कर रही है।23 नवम्बर को होना वाला मितानिन दिवस,14 नवम्बर को होने वाला बाल दिवस,व 26 नवम्बर को मनाया जाने वाला संविधान दिवस 27 नवम्बर को ग्राम पंचायत कोपरो में आयोजित पंचायत स्तरीय स्वामी विवेकानन्द युवा प्रोत्साहन योजना एवं राजीव गांधी युवा मितान क्लब कार्यक्रम के तत्वाधान में इन आयोजनों को भी मनाए जाने का मौका मिला।एक मितानिन ने कहा कि वैसे तो मितानिन दिवस हमारा 23 नवम्बर को मनाया जाना चाहिए लेकिन कोरोना व अन्य कारणों के चलते आज मनाया गया।एक पढ़े लिखे नवजवान ने कहा कि मेरी जानकारी में तो बालदिवस 14 नवम्बर को मनाया जाना चाहिए था क्या बालदिवस की तारीख परिवर्तित हो गयी तब उसे उसके साथी नवजवान ने समझाया कि ये सभी कार्यक्रम अपनी निर्धारित तारीखों में ही आनन्द व उत्साह देते है जबसे कोरोना हिंदुस्तान पहुंचा है तब से इन सभी कार्यक्रमो की बुनियाद हिली है अब सब कुछ आगे पीछे होने लगा है।उसने एक कोने में ले जाकर समझाया तब जाकर उसे समझ आया।खैर छोड़िए इन सब बातों को इन सब आयोजनों में लोगो ने जमकर सैर की व जबरदस्त लुत्फ उठाया व कार्यक्रम में सम्पूर्ण वणांचल क्षेत्र के कोने कोने से आये महिला पुरुषों व बच्चों ने भरपूर आनन्द उठाया।ग्राम पंचायत कोपरो में सम्पन्न हुवे कार्यक्रमो का सिलसिलेवार वर्णन प्रस्तुत करते है।

ग्राम पंचायत कोपरो में मितानिन दिवस की रही धूम

ग्राम पंचायत कोपरो के युवा व ऊर्जावान सरपंच दिनेश बोरकर व जनपरिनिधिगणों व सचिव मुंशीराम श्रीवास,सचिव त्रिलोक सिंह ग्रामपंचायत चोभर के सरपंच गणेश राम धुर्वे एवं कोपरो संकुल के समस्त शिक्षक शिक्षिका श्री धनीराम डड़सेना (संकुल समन्वयक) श्रीमती रंजीता चक्रवती,बलराम कोमरे, रामध्यान धुर्वे,मंनोज मरकाम,राजकुमार मरकाम,जयंत वर्मा आदि की उपस्थिति मितानिन दिवस मनाया गया।
इस अवसर पर सरपंच दिनेश बोरकर ने मितानिनों की महत्ता के सम्बंध में प्रकाश डाला व उनकी कर्मठ सेवा भावना की सराहना की।
चोभर सरपंच गणेश राम धुर्वे ने भी उनकी सेवा भावना की सराहना की व कोरोना काल मे उनकी जबरदस्त मेहनत व सेवा को सराहा व कहा कि कोरोना वेक्सिनेशन जागरूकता सप्ताह व महाअभियान में वेक्सिनेशन को लेकर ये मितानिनें अपने अपने क्षेत्र रात तक स्वास्थ्य कार्यकर्ताओ के साथ बीहड़, दुर्गम नदीं नालों को पार करते हुवे आड़े तिरछे पथरीले मार्गो में लगातार सहयोग करती रही व वेक्सिनेशन अभियान को सफल बनाने व अन्य टीकाकरण आदि में भरपूर मेहनत व ईमानदारी से कार्य करती है।इनके शानदार जज्बे को सैल्यूट करता हूँ।
इस अवसर पर मितानिनों के सम्मान में वनांचल में पड़ रही कड़ाके की ठंड को देखते हुवे कोपरो सरपंच दिनेश बोरकर द्वारा मितानिन प्रशिक्षक श्रीमती राजकुमारी मात्रे, मितानिनद्वय श्रीमती कुमारी पोरते, पोषण मानिकपुरी, श्रीमती शारदा चौधरी,श्रीमती अंकलहिंन वर्मा,श्रीमती गायत्री मानिकपुरी, श्रीमती सुकवारो धुर्वे,श्रीमती कुंवारिया पोरते आदि मितानिनों को ऊनी स्वेटर प्रदान किया।उपरोक्त के अतिरिक्त समस्त पंचगण भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे।।

संविधान दिवस मनाया गया

उपरोक्त कार्यक्रम के समापन पश्चात इन्ही सभी लोगो की उपस्थिति में सरपंच दिनेश बोरकर व अन्य पदाधिकारियों ने संविधान निर्माता बाबा भीमराव अंबेडकर के तैलचित्र में गुलाल लगाकर फूलमाला चढ़ाकर पूजा अर्चना की।