डॉ सुमन चिकित्सा अधिकारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का स्थानांतरण रोकने का किया गया प्रयास

97

प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र औंधी के एवं मानपुर ब्लाक से मितानिन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र औंधी में पदस्थ डॉ सुमन चिकित्सा अधिकारी पर ग्राम पंचायत बागडोगरी के निवासी तिलक यादव के द्वारा रिशवत लेने का शिकायत दर्ज कराया है जिसके चलते अखबारों एवं मिडिया के माध्यम से मान सम्मान को ठेस पहुंचाया जा रहा है तथा कुछ लोग तिलक यादव को अपने गुप्त मे लेके उसे बहला फुसलाकर डॉ को औंधी से हटवाने की मांग हेतु ज्ञापन सौंपा गया। संज्ञान में पिछले आठ सालों से अब कब जब से डॉ सुमन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र औंधी है डॉक्टर को ई भी सिकायत नहीं मिली न कोई किसी भी जनता को परिधान नहीं किया। पैसा लेना एवं किसी भी प्रकार से शिकायत नहीं मिली है जो डॉ सुमन चिकित्सा अधिकारी शिकायत किया गया था या आरोप जो डॉ सुमन के उपर लगाया गया है वह राजनीति दबाव एवं पुरानी साजिश के कारण हुआ है मार्च 2020 में कुछ लोग डॉ सुमन को मारने के उद्देश्य से उनके निवास में बैठरुम तक चले गए थे उन्हें जातिगत गाली गलौज कर जान से मारने की कोशिश की गई थी डॉ सुमन चिकित्सा अधिकारी ने औंधी थाना में एफ आई आर दर्ज कराया था। जो प्रकरण आज तक न्यायलय में चल रहा है इस प्रकरण में वे समझौता के लिए न मानने फंसाने का प्रयास किया गया और रिश्वत लेने का आरोप लगाया। डॉ सुमन को औंधी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र से हटाने की मांग भी उन्होंनेे के द्वारा किया जाता रहा है। मानपुर ब्लाक से मितानिन एवं ब्लाक समन्वयक और मितानिन प्रक्षिका का कहना यह है कि डॉ सुमन चिकित्सा अधिकारी को औंधी में पदस्थ श्
रखा जाय। जब से डॉ सुमन चिकित्सा अधिकारी औंधी में पदस्थ हैं तब से आज तक को ऐसी घटनाएं नहीं हुई है प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र औंधी में सुमन चिकित्सा अधिकारी पदस्थ हैं तब से लोग दल्लीराजहरा मानपुर राजनांदगांव जैसे जगह में जाना नहीं पड़ता है स्थिति बहुत खराब होने पर डिलीवरी ब्रेन मलेरिया व आक्समिक दुर्घटना ऐसे ईलाज के लिए भटकना पड़ता था प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र औंधी में मरिजो की संख्या नहीं के माफिक होती थी जब से डॉ सुमन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ हैं तब से आज तक मरिजो का इलाज होता आ रहा है डॉक्टर सुमन अपनी सेवा चोबीस घंटे देता रहा है मानपुर औंधी के समस्त मितानिन एवं ब्लाक समन्वयक और मितानिन प्रक्षिका का कहना कि डॉ सुमन चिकित्सा अधिकारी की स्थानांतरण रोक दिया जाय