दादन मजदूरी करने को जाकर मजदूर लापता, शंभूपूजारी की पांच महिने से पता नहीं चल पा रहा है

174

कंधमाल में खत्म नही हो रही है दादन दुख | शिल्प बिहीन कंधमाल जिले में काम धंदा के अभाव से पेट की खातिर बाहर के राज्यों को दादन मजदूरी के लिए जाते हैं, किसीकी लाश तो कोई अत्याचारित होते हैं | कभी गैरकानूनी तरीके से आदमी चालान तो कभी नाबालिग लड़की, महिलाओं को चालान करके बूरे कामों में नियोजित करते हैं | जागरुकता की कमी के कारण प्रशासन काम दिलाने में असमर्थ होने के कारण दलाल सक्रिय हो रहे हैं | घटना है बालिगुडा थाना अंतर्गत गुलिमरा साहि के सोमनाथ पूजारी उर्फ शंभू पूजारी नामक एक मजदूर मजदूरी करने को जाकर पांच महिनों से लापता है और उनकी कोई खबर भी नहीं मिल रही |

सूचना के अनुसार 1/07/21 को उसी गली की संतोष मंगराज नामक एक दलाल केई तरह का लालच दिखाकर आंध्र प्रदेश ले गया था, फिर दो दिन बाद तुम्हारे पति गाँव लौटते वक्त गुंटूर स्टेशन में लापता होने की खबर दिया था | परिवार वाले उन्हें ढूंढने को कहने पर दलालने धमकी देने का अभियोग हुआ है | परिवार वाले हत्या करके फेंक देने का शक़ कर रहे है और पत्नी सबिता पूजारी बालिगुडा थाने में इत्तला दि थी | पुलिस छानबीन में अवहेलना का शिकायत किए है परिवार वाले | इस मामले में बालिगुडा थाना अधिकारी बाबा शंकर सराफ को फोन पर पूछने पर प्रतिक्रिया में कहा है कि लापता व्यक्ति फोन नहीं उठाने पर समस्या हो रही है | उधर शंभु पूजारी एक मात्र रोजगारी इंसान होने के कारण परिवार का गुजारा होने में मुश्किलें हो रही है, भूखे प्यासे परिवार के लोग शंभु के लौटने के रास्ते पर नजरें गढाए बैठे हैं | प्रशासन इस पर नजर देने के लिए हर तरफ से दावे हो रहे हैं |

कंधमाल से बिरुपाख्य पात्र का रिपोर्ट