देश के नंबर वन मुख्यमंत्री की उपलब्धि मिलने पर संसदीय सचिव ने दी शुभकामनाएं

157

 जनकल्याणकारी योजनाओं के कारण सीएम बघेल की बढ़ रही लोकप्रियता-विनोद

देश के नंबर वन मुख्यमंत्री की उपलब्धि मिलने पर संसदीय सचिव ने दी शुभकामनाएं

फोटो-विनोद चंद्राकर

महासमुंद। संसदीय सचिव व विधायक विनोद सेवनलाल चंद्राकर ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को देश के नंबर वन मुख्यमंत्री की उपलब्धि मिलने पर कहा कि जनकल्याणकारी योजनाओं के कारण उनकी लगातार लोकप्रियता बढ़ रही है। सीएम श्री बघेल पूरे छत्तीसगढ़ में सभी के प्रिय नेता बन गए हैं। 

संसदीय सचिव व विधायक श्री चंद्राकर ने कहा कि आईएएनएस-सी वोटर गवर्नेंस इंडेक्स के अनुसार छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल देश में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले मुख्यमंत्री हैं। बघेल को सभी मुख्यमंत्रियों के बीच टॉप लोकप्रियता रेटिंग मिली है। उन्होंने बताया कि आईएएनएस ने अपनी सर्वे रिपोर्ट जारी करते हुए कहा है कि भूपेश सरकार ने छत्तीसगढ़ में कई कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। जिसमें निजी स्कूलों में पढ़ने वाले बच्चों को मुफ्त शिक्षा प्रदान करना शामिल है। जिन बच्चों ने कोविड -19 के लिए माता-पिता या अभिभावकों को खो दिया है। महतारी दुलार योजना के तहत ऐसे बच्चों की पढ़ाई का खर्च छत्तीसगढ़ सरकार वहन कर रही है। इसी तरह नीति आयोग की एसडीजी इंडिया इंडेक्स रिपोर्ट 2020-21 के अनुसार, सतत् विकास लक्ष्यों के लैंगिक समानता पैरामीटर पर छत्तीसगढ़ भारत में शीर्ष प्रदर्शन करने वाला राज्य है। पिछले साल छत्तीसगढ़ ने लैंगिक समानता पैरामीटर पर 43 अंक हासिल किए और भारत में सातवें स्थान पर था। इस साल छत्तीसगढ़ ने 61 स्कोर किया और चार्ट में शीर्ष स्थान पर रहा। वहीं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्णय लेने की क्षमताओं को लोगों ने पसंद किया है। संसदीय सचिव व विधायक श्री चंद्राकर ने बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य के युवाओं से किए अपने वायदे को पूरा करते हुए उन्हें रचनात्मक कार्यों से जोड़ने तथा विकास कार्यों में सहभागी बनाने के लिए राजीव युवा मितान क्लब नाम से एक महत्वकांक्षी योजना का शुभांरभ किया है। इसके तहत राज्य के प्रत्येक ग्राम पंचायतों एवं नगरीय निकायों के वार्डों में चरणबद्ध रूप से 13269 राजीव युवा मितान क्लब गठित किए जाएंगे। क्लब के गठन एवं संचालन के लिए जिलों को 19.43 करोड़ रूपए की राशि भी जारी की गई है। प्रदेश सरकार ने बजट में 50 करोड़ रूपए का प्रावधान किया है। प्रत्येक क्लब को प्रत्येक तीन माह में 25 हजार रूपए के मान से एक साल में रचनात्मक गतिविधियों के संचालन के लिए एक लाख रूपए दिए जाएंगे। इसी तरह प्रदेश में भूपेश सरकार के काबिज होने के बाद कई जनकल्याणकारी योजनाएं शुरू की गई है। जनहितकारी ये योजनाएं छत्तीसगढ़ प्रदेश का मान सम्मान बढ़ा रही है। उन्होंने कहा कि पिछड़ेपन और असंतुलित विकास को दूर कर आम लोगों की भावना के अनुरूप विकास करने के राज्य के निर्माताओं की सोच के अनुरूप काम करने में प्रदेश सरकार सफल हुई है। कांग्रेस सरकार ने कोरोना महामारी की इस विषम परिस्थ्ािितयों के बावजूद ऐसी योजनाओं का क्रियान्वयन किया, जिससे छत्तीसगढ़ के गरीब, किसान, वनाश्रित, अनुसूचित जाति और पिछड़े लोगों का उत्थान हुआ है। इन योजनाओं के सफल परिणाम प्रदेश के सभी क्षेत्रों में अब साफ दिखने लगा है।

000000000000000000000000