-पहाड़ के ऊपर गावँ पर पहुंचे विधायक, अभिवादन करते हुए गामीणो ने किया स्वागत।

157

 आठमल्लिक विधानसभा क्षेत्र के विधायक रमेश चंद्र साई आठमल्लिक विधानसभा क्षेत्र के अंगुल प्रखंड के सुदूर बेतर गांव में पहुंचे। देश की आजादी के बाद कई सालों में पहली बार किसी विधायक ने गांव में पैर रखा। इसके परिणाम स्वरूप ग्रामीण प्रसन्न और आशान्वित हैं कि उनका दीर्घकालीन दुख अब कम हो जाएगा। अंगुल प्रखंड का उपेक्षित और सुदूर गांव है बेतर गांव। आदिवासी बहुल गांव में करीब चालीस परिवार रहते हैं, लेकिन गांव में दैनिक पहुंच की कमी के कारण, ग्रामीणों ने पहाड़, झरने को पार करके लगभग चार किलोमीटर रास्ता अतिक्रम करके शराधापुर गांव से किराने का सामान लेकर आते हैं।

 गांव में गर्भवती महिलाओं को भी सड़क नहीं होने की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। गांव में पीने के पानी और बिजली की सुविधा नही है। स्कूलों की कमी के कारण छात्रों के स्कूली शिक्षा से वंचित होने की भी खबरें हैं। गावँ के इतने सारे समस्याएं होने के कारण कोई प्रशासिनक अधिकारी या बिधायक की पैर नही पड़ा था। लेकिन बिधायक रमेश चंद्र साए पैरों से पहाड़ चढ के  गावँ में आकर पहुंचे और यह देख ग्रामीणों ने उन्हें अभीबादन के साथ स्वागत किये। गावँ के महिलाओं ने अपने परेसानी उनके सामने रखा। बिधायक ने ये सारे समस्या के जल्द ही समाधान करने का प्रतिसुती देकर फिर से पहाड़ से चल के नीचे आये थे।

आठमल्लिक, अंगुल से भक्ति प्रसाद प्रधान का रिपोर्ट 

आर 9 भारत