प्रतापपुर:दीपावली नजदीक आते ही तेज हुई कुम्हारों के चाक की रफ्तार।

155

  दीपावली पर खुशियों की रोशनी के इंतजार में कुम्हार,बिक्री बढ़ने की आस में बना रहे दीये।

Location:Pratappur,Chatra

By:Kr chandan

Anchor: प्रतापपुर/चतरा:दशहरा और दीपावली-छठ पूजा का पर्व जैसे-जैसे नजदीक आ रहा है मिट्टी के दीये और मूर्ति बनाने वाले कुम्हार समाज के लोग शीघ्रता से अपना यह कार्य पूरा करने में जुट गए हैं।अपने पुस्तैनी धंधे में जुटे इस समाज के लोगों का कहना है कि हर जगह प्लास्टिक के उत्पादों की मांग बढ़ने से कुम्हार इस धंधे से मुंह मोड़ने लगे हैं। बहरहाल, सनातन संस्कति व परंपरा के अनुसार धार्मिक कार्यों में मिट्टी के बर्तनों और दीये की मांग को देखते हुए कुम्हार समाज के लोग इस पुस्तैनी धंधा से अभी भी जुड़े हुए हैं। दशहरा में मां दुर्गा की प्रतिमा बनाने से लेकर मिट्टी के दीये तक बनाने में मिट्टी का उपयोग होता है। दशहरा समाप्त हुए मात्र एक सप्ताह का समय बिता है। जबकि इसके अगले कुछ ही दिनों में दीपावली व छठ महापर्व है। इन सभी पर्व-त्योहारों में मिट्टी के ही दीया, ढकनी व कलश का उपयोग किया जाना है। इसे लेकर कुम्हार समाज के लोग इनकी मांग के अनुपात में इन्हें बनाने के काम में लगे हुए हैं। प्रतापपुर के राजपुर के रामोतार प्रजापति के 62 वर्षीय बचपन से ही इस कार्य में लगे हुए हैं। उन्होंने बताया कि चाक पर मिट्टी चढ़ाने से इसे बढ़िया से मुलायम बनाया जाता है। कोई कंकड़-पत्थर नहीं होना चाहिए, तभी जाकर दीया या बर्तन बन सकता है। कहा कि प्लास्टिक की वजह से उनका यह धंधा मंदा हो गया है। पहले शादी-विवाह आदि यज्ञ-प्रयोजन में कुल्हड़ का ही प्रयोग होता था। चाय की चुस्की कुल्हड़ में ही लोग लेना पसंद करते थे। वही कुलदीप प्रजापति का कहना है कि वर्तमान समय में प्लास्टिक आदि के तरह-तरह के बर्तन आ गए हैं। इससे मिट्टी के बर्तनों की मांग कम है। काफी मेहनत के बावजूद मुनाफा कम है। यही वजह है कि युवा पीढ़ी भी इस धंधा में नहीं आना चाहते। बावजूद चाक पर बने मिट्टी के छोटे दीये की कीमत 2 रुपये या एक पीस या किसी-किसी ने 2 रुपये में दो पीस रखी है। चारमुखी और पंचमुखी दीये की कीमत 20 रुपये प्रति पीस तो उससे छोटे दीये की कीमत 5 रूपये प्रति पीस है। दशहरा में कलश स्थापना के दौरान अखंड ज्योति के लिए बने बड़े एक दीये की कीमत 20 रुपये प्रति पीस कुम्हारों ने रखी है। जबकि एक सेट की कीमत 60 रुपये है। इसमें दीया और ढकनी साथ में ही रहता है। कलश की कीमत साइज के अनुसार है।