राजापुर कला व गुलहरिया जगतापुर गांव के प्रधान व सचिव पर मुकदमा। शौचालय निर्माण में अनियमितता व सरकारी धन के दुर्पयोग के चलते दर्ज हुआ मुकदमा।

190

 बहराइच- जनपद बहराइच के बलहा जनपद बहराइच के बलहा विकासखंड के दो गांवो में शौचालय निर्माण में अनियमितता के चलते सहायक विकास अधिकारी की तहरीर पर थाना मोतीपुर अन्तर्गत गुलरिया जगतापुर एवं राजापुर कला गांव के प्रधान व सचिव पर मुकदमा दर्ज कराया गया है।

जांच अधिकारी सहायक विकास अधिकारी एमपी सिंह ने बताया कि राजापुरकलां गांव में 12000 रुपये प्रति शौचालय की दर से गांव में 948 शौचालय बनने थे जिसके लिये शासन की ओर से 1 करोड़ 13 लाख76 हजार का धन आवंटित किया गया किंतु जांच में मौके पर मात्र 289 शौचालय ही पूर्ण पाये गये। शेष धन का बंदरबांट कर लिया गया। इस तरह गुलहरिया जगतापुर में 260 शौचालय निर्माण हेतु 31 लाख 20 हजार रुपये आवंटित हुये जबकि मौके पर मात्र 87 शौचालय ही निर्मित मिले। 

उपरोक्त के संदर्भ में ग्राम विकास अधिकारी लक्ष्मी नारायण ने बताया कि जिन शौचालयों के गबन का आरोप लगाये गये हैं उनमें से 2017 में आवंटित शौचालयो की धनराशि सीधे लाभार्थी के खाते में भेज कर शौचालय बनवाया दिया गया था किंतु 2019 शौचालय हेतु धन भी लाभार्थी के खाते में भेजा गया किंतु कोरोना काल के चलते लाभार्थियों ने शौचालय नहीं बनाया। इस संदर्भ में जिला के अधिकारियों को पहले ही अवगत कराया जा चुका है।

 शौचालय निर्माण में अनियमितता व भ्रष्टाचार में संलिप्त पाये जाने पर एडीओ बलहा की ओर से ग्राम प्रधान राजापुरकला मीना सिंह पत्नी रामसरन सिंह एंव राम सरन सिंह पुत्र छत्तर सिंह तथा गुलहरिया जगतापुर की प्रधान रामादेवी पत्नी दिलेराम , दिलेराम पत्नी झगरू तथा दोनो ग्राम सभा में सचिव पद पर कार्यरत ग्राम विकास अधिकारी लक्ष्मी नरायण पुत्र सहजराम के खिलाफ थाने में तहरीर दी गयी है। एडीओ की तहरीर पर मोतीपुर पुलिस ने आरोपियो के विरुद्ध  सम्बंधित धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर लिया है।

एडीओ एमपी सिंह की जांच के खिलाफ लामबंद हो रहे कर्मचारी। लगातार दो विकासखंड में दर्ज करा चुके हैं मुकदमा।

 बलहा के तेज तर्रार सहायक विकास अधिकारी एम.पी सिंह की जांच में अबतक कई लोगो पर मुकदमा दर्ज हो चुका है । इससे पूर्व विकासखंड मिहींपुरवा के गोपिया गांव में एडीओ एमपी सिंह की ओर से मुकदमा दर्ज कराया गया था जिसके चलते प्रधान व सचिव को जेल भी जाना पड़ा था इसके बाद बलहा के भी दो प्रधानो व सचिव के खिलाफ मुकद्दमा दर्ज कराया गया। 

एडीओ की ओर से लगातार मुकद्दमा सम्बन्धी कार्रवाई से कर्मचारियों में रोष व्याप्त है रविवार को विकासखंड बलहा में ग्राम सचिव एवं कर्मचारियों ने बैठक कर एडीओ बलहा के खिलाफ मोर्चा खोलने का निर्णय लिया है ग्राम विकास अधिकारी लक्ष्मीनारायण यादव ने बताया कि वर्तमान में व्यक्तिगत कारणों से मुकदमा दर्ज कराया गया है जिसके विरोध में हम सभी कर्मचारी आगामी 2 नवम्बर को विरोध प्रदर्शन करेंगे। सहायक विकास अधिकारी एम.पी सिंह ने कहा कि मेरा काम मौके पर जांच कर रिपोर्ट देना है जिसे पूरी ईमानदारी के साथ किया गया है मुकदमे के विरुद्ध  विरोध प्रदर्शन की कोई जानकारी मुझे नही है यदि किसी को लगता है कि जांच सही नही है तो उच्चाधिकारियों से दोबारा जांच करवाई जा सकती है।

बहराईच से अजित कुमार