सरकार से की नीतिगत तरीके से नियुक्ति की मांग – विशेष शिक्षक संघ 7224 दिव्यांग बच्चों को सिर्फ 88 शिक्षक दे रहे हैं शिक्षा

177

सरकार से की नीतिगत तरीके से नियुक्ति की मांग – विशेष शिक्षक संघ
7224 दिव्यांग बच्चों को सिर्फ 88 शिक्षक दे रहे हैं शिक्षा
अनु ठाकुर, सोलन।
दिव्यांग बच्चों की शिक्षा के साथ हो रहे भेदभाव ने एक बार फिर से माहौल गर्म कर दिया है।
बता दें कि प्रदेशभर में 26 शिक्षा खंडों के सरकारी स्कूलों में विभिन्न दिव्यांगता श्रेणी के 7224 दिव्यांग बच्चों की शिक्षा का जिम्मा मात्र 88 शिक्षकों के हाथों में है जिनमें से 85 शिक्षक प्राइमरी स्तर तथा 3 शिक्षक हायर सैकेंडरी स्तर पर प्रतिवर्ष ।4 महीने के कान्ट्रैक्ट पर सेवाएं दे रहे हैं।इस प्रक्रिया पर हिमाचल प्रदेश विशेष शिक्षक संघ ने आपत्ति जताते हुए कहा कि सरकार प्रत्येक स्कूलों में विशेष शिक्षकों की नियुक्ति नीतिगत तरीके से करे और बच्चों के भविष्य के साथ इंसाफ हो।
रविवार को विशेष शिक्षकों की राज्य स्तरीय बैठक में संघ के प्रदेशाध्यक्ष ओम प्रकाश, देवेंद्र
शर्मा, केसरी ठाकुर, शिल्पा सैनी, सुरेंद्र कुमार, रंजीत सिंह, कांता चौधरी, निशा ठाकुर, हंसा कुमारी, सुनीता कुमारी, संजय परवारी, मनोज कुमार व जय कुमार ने राज्य दिव्यांगता आयुक्त, मुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री
तथा प्रदेश शिक्षा सचिव से इस विषय पर दिव्यांग बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा उपलब्ध करवाने के लिए विशेष शिक्षकों की नियुक्ति को लेकर नीति बनाने की मांग की है।
बेरोजगार संघ के पदाधिकारियों ने कहा कि प्रदेश सरकार व शिक्षा के क्षेत्र में बहुत काम कर रहे हैं परंतु दिव्यांग बच्चों की शिक्षा को लेकर भी सरकार को कोशिश करनी चाहिए ताकि दिव्यांग बच्चों का भी सर्वांगीण विकास हो सके।

\