सरदार वल्लभभाई पटेल की 146 वीं जयंती पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की

145

 सरदार वल्लभभाई पटेल की 146 वीं जयंती के अवसर पर प्रमंडलीय आयुक्त कार्यालय,सहरसा और समाहरणालय में पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों के द्वारा उनके चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धांजलि अर्पित की गई।साथ ही उन्हें नमः आँखों से याद करते हुए शपथ लिया गया। 

इस मौके पर एडीएम,जिला उप विकास आयुक्त साहिला हीर, सदर एसडीओ, डीपीआरओ और अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद थे।वल्‍लभ भाई पटेल का जन्‍म 31 अक्‍टूबर, 1875 को गुजरात के नडियाद जिले में हुआ था।सरदार पटेल की जयंती को राष्ट्रीय एकता दिवस के रूप में मनाया जाता है।

सरदार वल्लभभाई पटेल ने कहा था :-

यहाँ तक कि यदि हम हज़ारों की दौलत गवां दें, और हमारा जीवन बलिदान हो जाए, हमें मुस्कुराते रहना चाहिए और ईश्वर एवं सत्य में विश्वास रखकर प्रसन्न रहना चाहिए। मनुष्य को ठंडा रहना चाहिए, क्रोध नहीं करना चाहिए। लोहा भले ही गर्म हो जाए, हथौड़े को तो ठंडा ही रहना चाहिए अन्यथा वह स्वयं अपना हत्था जला डालेगा।