सूरत में मासूम बच्ची को कूड़े के ढेर के पास रख कर फरार

140

 कुछ निःसंतान माता-पिता के लिए बच्चे पैदा करना मुश्किल होता है।  टेवा शहर में क्रूर माता-पिता द्वारा बच्चे को छोड़ने के मामले भी सामने आ रहे हैं।  ऐसा ही एक मामला सामने आया है।  जहां एक बेटी भेस्तान ब्रिज कामनाथ महादेव मंदिर के पास कूड़े के ढेर के पास प्लास्टिक की थैली में लिपटी मिली।  जिन्हें आगे के इलाज के लिए नए सिविल अस्पताल में शिफ्ट किया गया है।

 108 कर्मचारी के मुताबिक वह भेस्तान ब्रिज के पास से गुजर रहा था।  तभी उन्होंने कूड़े के ढेर के पास बच्चे के रोने की आवाज सुनी।  उसने करीब से देखा तो देखा कि प्लास्टिक की थैली हिल रही थी।  जब उसने बैग खोला तो देखा कि एक लड़की खून से लथपथ है।

 108 बजे लड़की को तुरंत सूरत के सिविल अस्पताल ले जाया गया।  डॉक्टरों के मुताबिक बच्ची के शरीर पर अस्पताल का कोई टैग नहीं है।  इसलिए इस बच्चे का जन्म घर में हुआ पाया गया है।  फिलहाल बच्ची की तबीयत सामान्य है।  बच्चे का वजन करीब डेढ़ किलो है।  फिलहाल उनका एनआईसीयू में इलाज चल रहा है।  बच्चे को ऊपर से स्तनपान कराया जा रहा है क्योंकि उसे छोड़ दिया गया है।  हालांकि पुलिस बच्ची के माता-पिता की तलाश में तेजी से जुटी है.