डंडा में इंटर और डिग्री कॉलेज खोलना होगा। सभी छात्रों को छात्रवृत्ति और साइकिल की योजना की लाभ देने की गारंटी करो।।

185

ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन आइसा की डंडा प्रखंड कमिटी की बैठक कोर्ट पंचायत में हुई। बैठक में आए हुए छात्र-छात्राओं ने बताया कि इंटर और डिग्री कॉलेज नहीं होने से यहां के छात्र-छात्राएं उच्च शिक्षा से वंचित हो जा रहे हैं. कुछके ही छात्रों को साइकिल और छात्रवृत्ति की योजना लाभ मिल पा रही है। ऐसे में गरीब मध्यम वर्ग के छात्र सीधे शिक्षा से वंचित हो जा रहे हैं। बैठक में आए आइसा राज्य सचिव कहा कि त्रिलोकीनाथ ने राज्य में शिक्षा व्यवस्था लगातार लचर होती जा रही है. राज्य के अंदर हजारों शिक्षकों का पद खाली है. शिक्षा व्यवस्था तंदुरुस्त करने के बजाए सरकार कोरोना के नाम पर पिछले डेढ़ साल से शिक्षण संस्थानों को बंद रखा गया है .दूसरी तरफ सरकार चुनाव, रैलियां ,क्रिकेट मैच जैसे लगातार आयोजन करवा रही है लेकिन सरकार को सिर्फ स्कूल शिक्षण संस्थानों में ही करोना दिख रहा है। सरकार की दोहरी नीति से स्पष्ट होता है कि छात्रों को शिक्षा से वंचित कर सस्ती मजदूर पैदा करना चाहती है।
बैठक के बाद आइसा ने निर्णय लिया कि प्रखंड के सभी छात्र छात्राओं को डंडा
कॉलेज निर्माण के लिए और प्रखंड के स्कूलों में शिक्षकों को नियुक्त के लिए आंदोलन तेज करगी।
बैठक में शामिल लोग आइसा के राज्य सचिव कॉमरेड त्रिलोकी , आइसा गढ़वा जिला की सचिव किरण कुमारी, आइसा गढ़वा जिला के उपाध्यक्ष शालिनी मेहता, कामिनी मेहता, पूनम कुमारी , नीतू कुमारी कौशल्या कुमारी, दुर्गा कुमारी , संदेश चौधरी , राजेश चौधरी अन्य उपस्थित थे।