विपरपुर में राजस्थान को पहचानो थीम पर आयोजित हुई गतिविधियां…

109

नो बैग डे : शिक्षा विभाग में नवाचार
विपरपुर में राजस्थान को पहचानो थीम पर आयोजित हुई गतिविधियां


मुख्यमंत्री द्वारा बजट भाषण के दौरान शिक्षा विभाग से संबंधित घोषणाओं में शनिवार को नो बैग डे के आयोजन के तहत विपरपुर स्कूल में राजस्थान को पहचानो थीम पर गतिविधियां आयोजित की गई।
प्रधानाचार्य सतीश चंद ने नो बैग डे पर कक्षाओं को 5 समूहों में विभाजित किया। जिसमें कक्षा 1 एवं 2 अंकुर, कक्षा 3 से 5 प्रवेश, कक्षा 6 से 8 तक दिशा, कक्षा 9 एवं 10 क्षितिज तथा कक्षा 11 एवं 12 उन्नति समूह में बांटे गए तथा समूह वार शिक्षकों ने गतिविधियां आयोजित की।
इस अवसर पर व्याख्याता अतुल चौहान,अशोक कुमार ने प्रवेश समूह के विद्यार्थियों की राजस्थान के जिलों पर क्विज प्रतियोगिता आयोजित की। जिसमें विभिन्न जिलों से संबंधित जानकारी के सामान्य ज्ञान के प्रश्न शामिल किए गए। जिनमें राज्य के लोक नृत्य, शिक्षा विभाग की योजनाएं, राज्य में स्वतंत्रता आंदोलन में शामिल स्वतंत्रता सेनानियों के प्रश्न शामिल किए गए।
उन्नति समूह में व्याख्याता लखन लाल और रंजीत यादव ने राजस्थान के प्रमुख स्वतंत्रता सेनानियों अर्जुन लाल सेठी, केसरी सिंह बारहठ, प्रताप सिंह, जोरावर सिंह बारहठ, विजय सिंह पथिक, गोपाल सिंह खरवा, जमना लाल बजाज के बारे में जानकारी दी। क्षितिज समूह में व्याख्याता अनिल सक्सेना, बनवारी लाल शर्मा ने राजस्थान के पंच पीर पाबूजी, हड़बूजी, रामदेवजी, मंगलिया जी और मेहा जी के बारे में वार्ता दी तथा दिशा समूह में मुकेश कुमार और नेत्रपाल ने राजस्थान के लोक नृत्य घूमर, लांगुरिया, भवाई, तेरहताली पर चर्चा की।
ज्ञात हो कि नीति आयोग द्वारा बच्चों के स्कूल बैग का बोझ कम करने के निर्देश पर राजस्थान के सरकारी स्कूलों में प्रत्येक शनिवार को नो बैग डे पर अलग-अलग विषयों पर गतिविधियां आयोजित होती हैं। इस अवसर पर पांचों समूहों की जिम्मेदारी व्याख्याता मनोज गुप्ता, भगवती प्रसाद, ज्योति जैन, किशन स्वरूप को सौंपी गई।