गांव का नाम केईंफुलिआ, सभी मौलिक सुविधाओं से वंचित यह गाँव |

178

यह गाँव ओडिशा का गंजाम जिला का जगन्नाथ प्रसाद ब्लाक आफिस से करीब 45 किलोमीटर दूरी पर है |
— इस गाँव में करेंट नहीं है |
— यहाँ किसी के घर का पट्टा नहीं है |
— इस गाँव तक रास्ते भी हैं खतरों से भरे |
— यहाँ मोबाइल चलाने के लिए नेटवर्क नहीं है |

73 साल से यह गाँव बसा है, मोबाइल का इस्तेमाल न होने के कारण करोना के वक्त बच्चे पढाई में काफी परेशानी झेल चुके हैं | अभी भी आम लोगों का जीवन मुश्किलों से भरा है, जिसका जीता जागता नज़ारा आप देख रहे हैं | गाँव में करेंट न होने के कारण सोलर लाइट ही एक मात्र भरोसा है गाँव वालों के लिए | घरों के पट्टे न होने के कारण बच्चों का जात सर्टिफिकेट नही बन पा रहे हैं |
करेंट न होने के कारण बच्चों की पढाई में रुकावट हो रही है, इसलिए गाँव वालों ने निवेदन किया है कि गाँव में अगर करेंट आ जाए तो सभी उपकृत होते |

पवित्र महापात्र गंजाम ब्यूरो